+

जूता कांड के बाद फिर चर्चा में आए स्वामी प्रसाद मौर्य, हिंदू धर्म को लेकर दिया ये बयान

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party News) के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya News) अक्सर अपने विवादित बयानों की वजह से सुर्खियों में रहते हैं.…
featuredImage

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party News) के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Prasad Maurya News) अक्सर अपने विवादित बयानों की वजह से सुर्खियों में रहते हैं. कभी रामचरितमानस पर विवादित बयान देते हैं तो कभी साधु-संतों पर विवादित टिप्पणी कर देते हैं. हाल ही में स्वामी प्रसाद मौर्य के ऊपर जूता भी फेंका गया था. जूता फेंकने वाला स्वामी प्रसाद मौर्य के बयानों से नाराज था. इसी बीच इस बार भी स्वामी प्रसाद मौर्य ने हिंदू धर्म को लेकर विवादित बयान दे डाला है. स्वामी प्रसाद मौर्य का कहना है कि हिंदू नाम का कोई धर्म नहीं है. हिंदू धर्म सिर्फ धोखा है.

ब्राह्मण धर्म ही हिंदू धर्म बना- स्वामी प्रसाद मौर्य

आपको बता दें कि इस बार सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने हिंदू धर्म को लेकर ऐसा विवादित बयान दिया है, जो वायरल हो गया है. उन्होंने X पर अपनी एक वीडियो पोस्ट की. उसमें वह कह रहे हैं, “ ब्राह्मणवाद की जड़े बहुत गहरी है और सारी विषमता का कारण भी ब्राह्मणवाद ही है. हिंदू नाम का कोई धर्म है ही नहीं, हिंदू धर्म केवल धोखा है. सही मायने में जो ब्राह्मण धर्म है, उसी ब्राह्मण धर्म को हिंदू धर्म कहकर के इस देश के दलितों, आदिवासियों, पिछड़ों को अपने धर्म के मकड़जाल में फंसाने की एक साजिश है. 

इसके बाद सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा,“अगर हिंदू धर्म होता तो आदिवासियों का भी सम्मान होता है, दलितों का भी सम्मान होता, पिछड़ों का भी सम्मान होता लेकिन क्या विडंबना है कि आदिवासी समाज से आने वाली राष्ट्रपति को मंदिर में जाने से रोक दिया जाता है.” 

ADVERTSIEMENT

पूर्व राष्ट्रपति को भी मंदिर जाने से रोका

स्वामी प्रसाद मौर्य ने इसके बाद पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लेकर भी अपनी बात कही. उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को भी राजस्थान के ब्रह्मा मंदिर जाने से रोक दिया गया था. उन्हें इसलिए रोका गया क्योंकि वह दलित समाज से आते थे.

स्वामी प्रयाद मौर्य ने इस दौरान ये भी कहा कि अखिलेश यादव के सीएम आवास छोड़ने पर मुख्यमंत्री आवास पहले गोमूत्र से फिर गंगाजल से धोया गया था. ये इसलिए किया गया था क्योंकि अखिलेश यादव पिछड़े समाज से आते हैं.

फिलहाल स्वामी प्रसाद मौर्य का ये वीडियो वायरल हो रहा है. अब देखना ये होगा कि उनके इस बयान के बाद यूपी की सियासत में क्या हलचल देखने को मिलती है.

Whatsapp share
facebook twitter